शनिवार 02 2021

चिट्ठियों की यादें

"कागजों की तहरीरों पर सीमटी जज्बातों की बातें, हालात की बातें, तो हाल चाल की बातें, उस कागज के पुर्जे को खत कहा करते थे, पत्र कहा करते थे, तो चिट्ठी कहा करते थे । एक चिट्ठी के आने का इंतजार इतनी शिद्दत से होती थी कि उसके मिलने पर खुशियों का कोई ठिकाना नहीं होता था ।" 


Indian Post Office


लेकिन तकनीकी ने चिट्ठियों के सफर पर विराम लगा दिया । अब वे चिट्टियां ना तो लिखी जाती हैं और ना ही पढ़ी जाती हैं । लेकिन उन चिट्ठियों की यादें भरपूर जिंदा है आधुनिक दौर में चिट्ठी गुम हो गई है और हम भी अपनों से दूर हो चले हैं ।

कब से और क्यों मनाया जाता है विश्व डाक दिवस

9 अक्टूबर 2021 को विश्व डाक दिवस है इस मौके पर कुछ चिट्ठियों के सफर और डाकखाने पर एक नजर डाल रहे हैं साल 1874 में 9 अक्टूबर के दिन यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (UPU-Universal Postal Union) बनाने के लिए 22 देशों ने अपनी सहमति दी थी । सालों बाद 1967 में जापान के टोक्यो के एक आयोजन में 9 अक्टूबर को विश्व डाक दिवस के तौर पर मनाने का फैसला लिया गया । इसका मकसद था कि नागरिकों को डाक सुविधा से जोड़ा जाए और उनमें इसके लिए जागरूकता पैदा किया जाए । दुनिया के 142 देशों में पोस्टल कोड है जोकि यूनिवर्सल पोस्टल सेवा (UPS-Universal Postal Services) के तहत आते हैं ।

विश्व डाक दिवस 2021 का थीम

हर साल विश्व डाक दिवस अलग-अलग थीम के अनुसार में मनाया जाता है । इस दिन थीम के अंतर्गत ही काम किए जाते हैं । इस बार विश्व डाक दिवस 2021 का थीम "Innovate to recover" है ।

भारत में डाक का महत्व

अंतर्देशीय चिट्ठियां

भारत में शुरू से ही डाक प्रणाली बहुत ही आधुनिक तरीके से इस्तेमाल किया जाता रहा है । भारत की डाक व्यवस्था पूरी दुनिया में एक उदाहरण माना जाता है क्योंकि यहां सबसे ज्यादा डाक इस्तेमाल किया जाता रहा है । भारत में दुनिया की सबसे बड़ी पोस्टल सर्विस (Postsl Service) है । जहां डेढ़ लाख से भी ज्यादा पोस्ट ऑफिस देश के कोने कोने में मौजूद हैं । भारत में पिन कोड नंबर के आधार पर चिट्टियां बांटी जाती है पिन कोड तय किए जाने की शुरुआत 15 अगस्त 1972 में हुई थी ।

दुनिया भर की अतरंगी डाकघर

पोस्ट ऑफिस केवल पुरानी इमारतें या फिर लाल डिब्बे वाले नहीं बल्कि कई पोस्ट ऑफिस अपने अनोखेपन की वजह से भी टूरिस्ट स्पॉट बन चुके हैं । इनमें से कुछ ऐसे हैं जैसे कि कश्मीर में तैरने वाला  डल झील में बोट हाउस पर तैरता हुआ डाकघर । इसी तरह से वियतनाम में दुनिया का सबसे खूबसूरत पोस्ट ऑफिस है जिसे देखने के लिए दुनिया के कोने कोने से सैलानी आते हैं । Republic of Vanuatu में पानी में मछलियों के बीच पोस्ट बॉक्स रखा गया है जोकि वाटर प्रूफ है ताकि चिट्टियां गीली ना हो जाए और सुरक्षित अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचाई जा सके ।



यह भी पढ़ें


शिवोस . 2017 Copyright. All rights reserved. Designed by Blogger Template | Free Blogger Templates