गुरुवार 05 2020

 "मिट्टी के दिये" से घर को सजाएं 

शुक्रवार, 14 नवंबर 2020, Happy Diwali

Happy Diwali



हमारे देश में मिट्टी के दीयों का  चलन सैकड़ों दशक से है। इतिहास के पन्नों को पलट कर देखने पर पता चलता है कि जब भी कोई खुशी की बात आई हो या किसी भी तरह के महोत्सव का आनंद लेना हो तो उस वक्त मिट्टी के दीयों का महत्व बढ़ जाता था । 



लोग मिट्टी के दिये जलाकर घर, गांव और शहरों को रोशन करते थे। मिट्टी के दिये में एक अजीब सी महक और रोशनी होती है जिससे वातावरण शुद्ध तो होता ही है साथ ही मनुष्य की आयु को लंबी कर जाती है।

बॉयकॉट चाइनीज लाइट


No China products


आज के आधुनिक युग में हम चाइनीज लाइट का इस्तेमाल करने लगे हैं । कृत्रिम संसाधनों का उपयोग ज्यादा से ज्यादा करने लगे हैं जिससे हम अपनी पुरखों की पहचान को खोते जा रहे हैं । इसलिए हम सभी को चाहिए कि चाइनीज लाइट का विरोध करें 


Deshi Diye


इस बार हमें याद रखना है कि हम अपने घर में ज्यादा से ज्यादा मिट्टी के दिये जलाएं । चाइनीस लाइटों का पूरी तरह से बहिष्कार करना है और किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण से दूरी बना कर रखना है । हमें दूसरों को भी प्रेरित करना होगा कि और लोग भी सिर्फ और सिर्फ मिट्टी के दिये अपने घरों में जलाएं इससे विभिन्न तरह के फायदे होंगे 

हमारे जमाने की दिवाली


Traditional Diwali


 लगभग आज से 20 वर्ष पहले जब दिवाली का त्यौहार आता था तो हम सारे बच्चे दिवाली के एक सप्ताह पहले से मिट्टी के बर्तन, दिये व मिट्टी से बने घंटियां खरीदने के लिए घरवालों से जिद करने लगते थे और दिवाली आने का इंतजार करते थे । जब दिवाली बीत जाता था तो घर में उपयोग किए गए दियो और मिट्टी के अन्य बर्तनों का इस्तेमाल खेलने में लगाते थे ।

आज की आधुनिक दिवाली

Modern Diwali


दुर्भाग्यवश अब वह अवसर आज के बच्चों को नहीं मिल पाता । आज के बच्चे तो मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रॉनिक चीजों के साथ खेलने में लगे हैं उनको अपने पूर्वजों के ज्ञान का विरासत नहीं मिल पाता । आज की पीढ़ी की दिवाली बनावटी सामानों से सुसज्जित रहती है जिसमें अपनापन कम दिखावा ज्यादा नजर आता है । शायद हम अपने बच्चों वह आने वाली पीढ़ियों के लिए एक ऐसी समाज की स्थापना नहीं कर पाए जो हमारे पूर्वजों ने देखे थे ।

मिट्टी के दीए जलाने के फायदे




• ग्रामीणों को रोजगार मिलेगा
• गरीब तबके को सहारा मिलेगा

• देश की आर्थिक स्थिति में योगदान होगा
• वातावरण शुद्ध होगा

• आपसी भाईचारा बढ़ेगा
• वातावरण में कीटाणु नष्ट होंगे

• बिजली की बचत होगी
• आंखों की रोशनी पड़ेगी

• प्रदूषण कम होगा

इस तरह से मिट्टी के दिये के जलाए जाने पर बहुत सारे फायदे देश को और मानव कल्याण के लिए होगा ।

प्रधानमंत्री मोदी  जी ने मिट्टी के दिये जलाने का किया आग्रह



प्रधानमंत्री मोदी जी ने 5 अप्रैल 2020 को 9:00 बजे 9 दिए जलाने का आग्रह किया है । लोगों ने इस पहल की सराहना की है । इस आग्रह के बाद बाजार में मिट्टी के दीयों की मांग बढ़ गई है I वही कुम्हारों के घर जहां मिट्टी के दिये बनाने के काम बंद कर दिए गए थे अब अचानक से तेज हो गई है क्योंकि सभी लोग ने बाजार में मिट्टी के दिये खरीदने के लिए रुचि दिखाई है ।

जैसा कि हम सबको पता है देश में 21 दिन का लॉक डाउन चल रहा है इसी मनोबल को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री जी ने मिट्टी के दीए जलाने कहा आग्रह किया है ।

शिवोस . 2017 Copyright. All rights reserved. Designed by Blogger Template | Free Blogger Templates