सोमवार 13 2020

आजादी के साथ कोरोना युद्ध



"हम सभी हिंदुस्तानी इस बार 15 अगस्त 2020, शनिवार को 74वां स्वतंत्रता दिवस बहुत ही खास तरीके से मनाने वाले हैं इस बार स्वतंत्रा दिवस पर खास माहौल होगा, मनाने का खास तरीका होगा, खास वातावरण होगा, खास जोशो जुनून होगा और दुश्मनों को खास चेतावनी भी दी जाएगी इस बार हिंदुस्तान का यह 74वां स्वतंत्रता दिवस पूरी दुनिया के लिए खास होगा पूरी दुनिया की निगाहें हमारे हिंदुस्तान पर होंगी ।"

इस बार हम इतिहास के बारे में न बता कर हिंदुस्तान के वर्तमान और आने वाले भविष्य पर चर्चा करेंगे । आज तक हमने इतिहास के बारे में बहुत कुछ पढ़ा और जाना लेकिन इस बार सिर्फ भारत के वर्तमान और भविष्य के बारे मे जानेंगे ।

हिंदुस्तान की बढ़ती ताकत

भारत का भविष्य कैसा होने वाला है इसका अंदाजा हमें अब होने लगा है, अभी तक हम अपनी ताकत को लेकर थोड़ा बहुत असमंजस में थे लेकिन सर्जिकल स्ट्राइक और हाल ही में गलवान घाटी में चीन को मात देने के बाद पूरी तरह साफ हो गया है कि हमें किसी से डरना नहीं है । अब हम इतने सक्षम हो गए हैं कि किसी भी दुश्मन को हरा सकते हैं इसके साथ ही दुनिया को हमने बता दिया है कि अब हमें कोई हल्के में नहीं ले सकता । कहने को हम भले ही विकासशील देश हैं परंतु किसी भी विकसित देश के साथ आंखों में आंख डाल कर बात कर सकते हैं चाहे दुनिया का कोई भी मजबूत देश ही क्यों ना हो ।

और ताकतवर हुई भारतीय सेना

Brave Indian Army

हमारी भारतीय सेना ने हर दुश्मन को धूल चटाया है चाहे वह प्रथम कश्मीर युद्ध हो, 1965 का प्रथम भारत पाक युद्ध हो, 1971 में पाकिस्तानी सेना का आत्मसमर्पण हो, कारगिल युद्ध हो या फिर चीन को घुटने टेकने पर मजबूर करने की बात हो । भारतीय सेना का पराक्रम पूरी दुनिया में जाना जाता है भारतीय सेना किसी भी देश में जाकर युद्ध लड़ने में सक्षम है इसलिए भारतीय सेना को प्रोफेशनल आर्मी भी कहा जाता है ।

Brave Indian Navy

जहां सूरज की रोशनी तक नहीं पहुंच पाती, जहां ऑक्सीजन तक मौजूद नहीं होता, जहां समुद्र तल से 5000 मीटर ऊंचाई हो, जहां का तापमान 40 से 50 डिग्री नीचे हो वहां इंडियन आर्मी अपनी जोश को बुलंद रखते हुए भारत वर्ष का झंडा लहराती है इसलिए इंडियन आर्मी के आगे कोई भी देश सामने से वार करने की हिम्मत नहीं करता । इंडियन आर्मी की ताकत और गर्मजोशी देखकर दुश्मन खुद पहले से ही आधी हार मान लेता है यही कारण है कि पाकिस्तान और चीन सामने से लड़ने की हिम्मत नहीं दिखा पाते ।

INS Vikramditya-Indian Nevy

इंडियन आर्मी में जितनी सोल्जर है उससे कहीं ज्यादा उनकी वीरता और शौर्य की कहानियां है जो हर रोज एक मिसाल कायम करती है । उनमें से कुछ सोल्जर के नाम प्रस्तुत कर रहा हूं जिन्होंने अपनी विराट बहादुरी से इतिहास कायम कर दिया

1. कैप्टन विक्रम बत्रा
2. मेजर जनरल इयान कार्डोजो
3. ब्रिगेडियर मोहम्मद उस्मान
4. सूबेदार जोगिंदर सिंह
5. राइफलमैन जसवंत सिंह
6. रावत सेकंड लेफ्टिनेंटअरुण 
7. क्षेत्रपाल मेजर सोमनाथ 
8. शर्मा नायक जदुनाथ सिंह 
9. सूबेदार करन सिंह
10. मेजर रामास्वामी परमेश्वरन
 
NSG Commando

इंडियन आर्मी में हर एक सैनिक अपने आप में योद्धा है हमारे एक-एक सैनिक 10-10 सैनिकों के बराबर है । इसका ताजा उदाहरण गलवान घाटी में चीन के 100 सैनिकों का गर्दन मरोड़ कर मार कर अपनी बहादुरी को साबित कर दिया है वह भी बिना हथियार के ।

लांस नायक हनुमन थापा

Image Source: Maps of India

लांस नायक हनुमन थापा ने तो अपनी हिम्मत और जोश के बदौलत 8 मीटर ग्लेशियर के नीचे दबे होने के बाद भी 6 दिन बाद जिंदा वापस बाहर आए यह है हमारी इंडियन आर्मी का हौसला । इंडियन आर्मी के बारे में जितना भी लिखा पढ़ा जाए कम ही है उनकी बहादुरी शौर्य और वीरता को सीमित नहीं रखा जा सकता क्योंकि इंडियन आर्मी की कार्यशैली और कारनामे अनगिनत है ।

कोरोना के बीच स्वतंत्रा दिवस

शायद हम इस बार सोशल डिस्टेंसिंग के कारण स्वतंत्रता दिवस पर अधिक मात्रा में हर बार की तरह इकट्ठे ना हो पाए लेकिन हमारे पास इसे मनाने के लिए इकट्ठे होने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि इस बार चीन को मात देने के बाद हमारे जोश इतने ऊंचे हो गए हैं कि हम इस वक्त जहां हैं वहीं से आजादी महसूस कर रहे हैं । 


इस बार स्वतंत्रता दिवस में अमेरिका, रूस, जापान, इजराइल, ऑस्ट्रेलिया जैसे महाशक्तियों के साथ पूरी दुनिया अप्रत्यक्ष रूप से शामिल होगी । लाल किले से प्रधानमंत्री के द्वारा पूरी दुनिया में अपना संदेश सुनाया जाएगा । हर बार स्वतंत्रता दिवस जैसे पर्व पर सिर्फ भारतवर्ष के लोगों का ही ज्यादातर ध्यान होता है लेकिन अब की बार पूरी दुनिया की निगाहें भारतवर्ष पर होंगी पूरी दुनिया भारत की बात सुनेगी ।

स्वतंत्रता दिवस पर कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की घोषणा


पूरी दुनिया में आतंक मचाने वाले वायरस का अंत करीब आ गया है । भारत ने इस बार इसके खात्मे के लिए कमर कस ली है पूरी दुनिया भर के वैज्ञानिक वायरस से बचाने वाली वैक्सीन की खोज में लगातार रिसर्च कर रहे हैं । लेकिन भारत ने इस मामले में लंबी छलांग लगाई है अगर सब कुछ ठीक रहा तो 15 अगस्त 2020 को यह वैक्सीन लॉन्च हो सकती है । 



ICMR ने हाल ही में Co-Vacine के Human Trials को मंजूरी दे दी है । यह Vaccine फार्मास्यूटिकल कंपनी भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने तैयार की है ICMR के लेटर की माने तो 7 जुलाई 2020 को ट्रायल के लिए Enrollment शुरू किया जाएगा इसके बाद अगर सभी ट्रायल सफल हुए तो आशा है कि 15 अगस्त 2020 तक Co-Vacine को लांच किया जा सकता है ।


हालाकी Co-Vacine के (Clinical Trials) को लेकर कुछ सवाल उठ रहे हैं शोधकर्ताओं का मानना है कि वैक्सीन तैयार करने में किसी भी तरह ही जल्दी बाजी नहीं होनी चाहिए । हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक (Bharat Biotech) का पुराना अनुभव है कंपनी ने इसके पहले पोलियो, रेबीज, रोटावायरस, चिकनगुनिया, और जिका वायरस के लिए वैक्सीन तलाश कर चुकी है ।


 भारत बायोटेक (Bharat Biotech) के अलावा Zydus, Cadila Healthcare ने भी कोविड-19 के लिए वैक्सीन तैयार की है कंपनी को DCGI (Drug controller general of India) ने वैक्सीन के इंसानों पर ट्रायल के लिए मंजूरी दे दी है । Zydus, Cadila इंसानों पर वैक्सीन के परीक्षण पर अनुमति हासिल करने वाली दूसरी कंपनी बन गई है । देशभर में वायरस का कहर तेजी से बढ़ रहा है तो वैक्सीन का ट्रायल भी तेज कर दिया गया है ।

घातक हथियार

भारत के पास वह घातक हथियार है जिसका नाम सुनते ही दुश्मन के होश उड़ जाते हैं
  • SU-30MKI
  • T-90S Bheesma
  • P-8I Neptune
  • Phalcon AWACS
  • NAMICA (NAG Missile Carrier)
  • Rafale
  • Boeing CH-47 Chinook
  • Boeing AH-64 Apache
  • Boing C-17 Globemaster III
  • Boeing AH-64 Apache
  • Boeing CH-47 Chinook
 
  • Boing C-17 Globemaster III
  • NAMICA (NAG Missile Carrier)
   
  • Phalcon AWACS
  • P-8I Neptune

  • SU-30MKI
  • Rafale
  

  • T-90S Bheesma


इसके अलावा बहुत से ऐसे हथियार है जो सुरक्षा कारणों से भारत ने गुप्त रखा हुआ है । समय आने पर यह हथियार दुनिया के सामने आएंगे इन सबके बावजूद भारत अपनी शक्ति में वृद्धि के लिए हमेशा कोई न कोई एडवांस हथियार की खरीदारी कर रहा है । अभी हाल ही में चिनूक, अपाचे, एस-400 पर डील हुई है डील के तहत फ्रांस से राफेल भी आने आने शुरू हो गए हैं । दुनिया में जो भी सबसे ताकतवर हथियार हैं वह भारत किसी भी कीमत पर खरीद रहा है जिससे भारत को शक्तिशाली बनाया जा सके ।

15 अगस्त 2020 पर आने वाले मेहमान एवं संदेश


15 अगस्त 2020 के मुख्य अतिथि कोई नहीं है क्योंकि मुख्य अतिथि गणतंत्र दिवस पर यानी 26 जनवरी को आमंत्रित किए जाते हैं । हर बार की तरह इस बार भी देश के प्रधानमंत्री लाल किले के प्राचीर से देश-विदेश को संदेश देंगे लेकिन इस बार का संदेश बहुत ही महत्वपूर्ण एवं दुश्मनों के लिए चेतावनी भरा हो सकता है । गलवान घाटी में 20 वीर सपूतों जो चीन के 100 से अधिक सैनिकों को मारकर शहीद हुए हैं उनको अभूतपूर्व श्रद्धांजलि दी जाएगी । उनके वीरगाथा और बलिदान को सम्मान पूर्वक याद किया जाएगा ।

भारत के अलावा चार और देश भी मनाते हैं 15 अगस्त की आजादी का उत्सव

1. 15 अगस्त को दक्षिण कोरिया जापान से
2. 15 अगस्त 1945 को बहरीन ने ब्रिटेन से
3. 15 अगस्त 1971 को कांगो ने फ्रांस से
4. 15 अगस्त 1960 को लिंकटेस्टीन ने जर्मनी से
5. 15 अगस्त 1866 को जर्मनी से
 
यह सभी देश 15 अगस्त को ही अपना स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं यह दिन अपने आप में पूरी दुनिया के लिए अभूतपूर्व है।

Image Souce: Post Card News

शिवोस . 2017 Copyright. All rights reserved. Designed by Blogger Template | Free Blogger Templates