गुरुवार 30 2020

Wear Mask



डब्ल्यू एच ओ (World Health Organization) ने कोरोना वायरस को एक महामारी के रूप में घोषित किया है । कोरोना वायरस एक ऐसा सूक्ष्म और खतरनाक वायरस है जिसे हम अपनी आंखों से देख नहीं सकते । हम कह सकते हैं कि कोरोना वायरस इंसान की बाल से 900 गुना छोटा है । और और इस छोटे से वायरस ने दुनियाभर के तमाम अर्थव्यवस्था को तबाह कर रखा है । इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि कोरोना वायरस मानव व्यवस्था के लिए कितना खतरनाक है ।

क्या है कोरोना वायरस ?

Image courtesy: iStock


कोरोना वायरस एक ऐसा लाइलाज संक्रमण है जिससे सांस लेने में तकलीफ और जुकाम जैसी समस्या उत्पन्न होती है । पूरी दुनिया भर में ऐसा वायरस चीन के वुहान शहर में देखा गया था । दुनिया में इस वायरस को आए हुए लगभग एक साल होने जा रहे हैं पहली बार इस वायरस की पहचान  दिसंबर 2019 में किया गया था । दुनिया भर में किसी भी देश के पास इस लाइलाज वायरस से लड़ने के लिए कोई भी वैक्सीन या दवा मौजूद नहीं थी और ना ही अभी इस दवा की खोज की गई है ।

कोरोना वायरस के लक्षण क्या है ?

Image courtesy: Indiatvnews.com


कोरोना वायरस से संक्रमण फैलता है जिसकी वजह से सर्दी खांसी, सांस लेने में दिक्कत, गले में खराश, जुकाम और बुखार जैसी समस्याएं उत्पन्न होती है । लेकिन इसका यह मतलब नहीं निकालना चाहिए कि यह लक्षण आते ही आप कोरोना वायरस बीमारी घोषित कर दें ।  हो सकता है सर्दी, जुखाम एक सामान्य बीमारी हो जो कोरोना वायरस का लक्षण नहीं भी हो सकता है । लेकिन ऐसी स्थिति में डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी हो जाती है और सावधानी बरतनी रहनी चाहिए । यह बीमारी अब तक 90 से भी अधिक देशों में फैल चुका है ।

कोरोना वायरस संक्रमण से कैसे बचें ?

Image courtesy: https://jagwire.augusta.edu


भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय में कोरोनावायरस से बचाव के लिए कुछ सुझाव वह निर्देश जारी किए हैं जिनका हमें शक्ति से पालन करना चाहिए

• हाथों को बार-बार साबुन से धोना चाहिए
• किसी अच्छे सेनीटाइजर का इस्तेमाल करते रहना चाहिए
• अगर खांसी या जुखाम है तो ऐसी स्थिति में मुंह पर रुमाल या टिशू रखना चाहिए
• सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचना चाहिए
• लोगों से कम से कम 6 फीट की दूरी बना कर रखना चाहिए
• ऐसे व्यक्तियों से दूरी बना कर रखे हैं दिन में सांस की बीमारी खांसी या कोल्ड फ्लू की शिकायत हो
• मास्क का इस्तेमाल सदैव करते रहे

कब मिलेगी कोरोना वायरस की दवा  ?

Image courtesy:https://sciencebusiness.net


कई प्रयासों के बाद कोरोनावायरस के सफल परीक्षण से वैक्सिंग बना लिया गया है । अब तक भारत समेत अन्य कई देश वैक्सिंग बनाने में कामयाब हुए हैं । इजराइल जैसे देश ने तो अपने सभी देशवासियों को वैक्सिंग लगा भी चुका है । अभी बहुत से देश तेजी के साथ अपने नागरिकों को वैक्सिंग लगा रहे हैं । भारत भी इस मामले में बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है । 

अब तक दुनिया में सबसे तेज सबसे पहले सबसे ज्यादा वैक्सिंग बनाने का रिकॉर्ड भारत के पास रहा है । और यह तेजी से अपने नागरिकों को वैक्सिंग लगा रहे हैं । भारत में तेजी से कोरोनावायरस फैलने से चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई है परंतु अब स्थिति थोड़ी नियंत्रित लग रही है । अगर भारत अक्टूबर तक अपने सभी देशवासियों को वैक्सीन लगा देता है तो भविष्य में आने वाले तीसरे वेब के असर को कम किया जा सकता है ।

कोरोना वायरस वर्ल्ड वाइड की ताजा जानकारियां क्या है ?




पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के मामले 55,057,812 हो गए हैं यह आंकड़ा 16 नवंबर रात 11:00 बजे तक का है । अमेरिका इस मामले में 11,391,142 आंकड़ों के साथ नंबर एक पर है और 8,868,468 मामलों के साथ दूसरे नंबर पर इंडिया है । अगर तीसरे नंबर की बात करें तो 5,863,093 मामलों के साथ ब्राजील तीसरे नंबर पर आता है । 

लाइव अपडेट पाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें और किसी भी देश की कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या जाने



कोरोना वायरस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

1. कोरोना वायरस टेस्ट में कितना खर्च आता है ? How much expenses in corona virus identify?


पहले तो कोरोना वायरस के टेस्ट का खर्च प्राइवेट अस्पताल में Rs 4500 है अगर कोई संदिग्ध कोरोना वायरस पीड़ित है तो उससे ₹ 1500 लिए जा सकते हैं अगर टेस्ट कंफर्म आता है तो आईसीएमआर द्वारा निर्धारित खर्च ₹3000 लिए जा सकते हैं । 

लेकिन अब भारत सरकाार द्वारा वैक्सिंग क्रीम लगाने का अभियान शुरू कर दिया गया है यह अभियान लगातार तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है उम्मीद है सभी देशवासियों को जल्दी ही कोरोनावायरस का वैक्सिंसीन लग जाएगा और सभी सुरक्षित महसूस करने लगेंगे ।

2. अगर कोई कोरोनावायरस पॉजिटिव आपके संपर्क में आए तो क्या करना चाहिए ? What to do if someone is recently in touch with Corona positive person ?

  • अगर आप या आपका कोई मित्र आप के संपर्क में है जो कोरोना पॉजिटिव है तो सबसे पहले आपको अपने घर परिवार या दोस्तों से 14 दिन के लिए अलग रहना चाहिए और और उन सब को सूचना देना चाहिए जो आप के संपर्क में आए हैं । इस दौरान आप कोशिश करें कि कोई भी व्यक्ति आप के संपर्क में ना रहे है और ना ही आप किसी से मिले ।
  • अपने आप को आप ध्यान दें  कि कहीं आपको बुख़ार तो नहीं गया है, या सांस में तकलीफ, खांसी, स्वाद या गंध की कमी, गले में ख़राश, कंजेशन या बहती नाक, मितली, दस्त, और मांसपेशियों में दर्द जैसे लक्षण महसूस हो तो ऐसे में आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें
  • अगर आप आपको पता हैं कि आप किसी कोरोनावायरस मरीज के संपर्क में आए हैं तो आपको अपना जांच 5 से 7 दिन के बाद ही करना चाहिए क्योंकि इतने दिनों बाद कोरोनावायरस के लक्ष्ण शरीर में दिखाई देने लगते हैं

3. क्या हम कोरोनावायरस के दौरान  एसी कूलर का इस्तेमाल कर सकते हैं Can we use window A.c and coolers during COVID 19 ?

कोरोनावायरस के लक्षण में सर्दी जुखाम खांसी या गले में खराश होना बुखार होना इत्यादि है । और ज्यादातर देखा गया है कि जो लोग एसी या कूलर में ज्यादा रहते हैं उनकी इम्यूनिटी पावर कम हो जाती है । और उनको सर्दी जुखाम खांसी इत्यादि होने की संभावना बढ़ जाती है । तो ऐसी स्थिति में एसी या कूलर का इस्तेमाल ना करें तो बेहतर होगा कोशिश करें कि सामान्य वातावरण में रहे और प्रकृति का आनंद लें ।



शिवोस . 2017 Copyright. All rights reserved. Designed by Blogger Template | Free Blogger Templates